गाजीपुर न्यूज़

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर एम.आर.डी प्रबन्धक ने पौधे बांटे

मरदह गाजीपुर:भारत में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर एमआरडी पब्लिक स्कूल सिंगेरा की प्रबंध कमेटी ने महिलाओं को उपहार स्वरूप पौधे भेंट किए।विद्यालय संचालक श्रीनाथ यादव ने महिला अधिकारों के प्रति महिलाओं को जागरुक किया।जिसमे उन्होने बताया कि 19 वीं सदी तक आते-आते महिलाओं ने अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता दिखानी शुरू कर दी थी।अपने अधिकारों को लेकर सुगबुगाहट पैदा होने के बाद 1908 में 15000 स्त्रियों ने अपने लिए मताधिकार की मांग दुहराई। साथ ही उन्होंने अपने अच्छे वेतन और काम के घंटे कम करने के लिए मार्च निकाला। यूनाइटेड स्टेट्स में 28 फरवरी 1909 को पहली बार राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया।भारत में भी अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है।इस दिन नारियों के सम्मान में तरह-तरह के समारोह आयोजित किए जाते हैं। साथ ही समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए महिलाओं को सम्मानित भी किया जाता है।स्त्रियों के लिए कार्य करने वाले संगठन इस दिन विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण शिविर और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन करते हैं। कई संस्थाओं द्वारा गरीब महिलाओं को आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की जाती है। स्कूल वार्डेन श्रीमती मधु यादव ने बतायी कि भारत में नारियों को मौलिक अधिकार, मतदान का अधिकार और शिक्षा का अधिकार तो प्राप्त है लेकिन अभी भी स्त्रियां अभावों में जिंदगी बीता रही हैं। हमारे समाज में धीरे-धीरे हालात बदल रहे हैं। आज कोई भी क्षेत्र ऐसा नहीं है जो नारियों से अछूता हो। आज चाहे फिल्म हो,इंजीनियरिंग हो या मेडिकल,उच्च शिक्षा हो या प्रबंधन हर क्षेत्र में स्त्रियां पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। अब बेटे और बेटी के बीच फर्क घटा है लेकिन अभी भी यह कुछ वर्ग तक ही सीमित है। नारियों के समक्ष खुला आसमान और विशाल धरती है जिस पर वह अनंतकाल तक अपना परचम लहरा सकती है। इस मौके पर प्रधानाचार्य सनोवीर फिरदौस, मधु यादव,रागिनी सिंह,पिंकी सिंह,योगेश यादव,अजीत यादव श्रीमती मधु यादव,मनोज कुमार प्रजापति,कौशलेंद्र सिंह आदि अध्यापक मौजूद रहे।

रिपोर्ट: संवाददाता

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *