गाजीपुर न्यूज़ शिक्षा

छात्रों को बेहतर शिक्षा के साथ आधुनिक संसाधनों से गुणात्मक शिक्षा देना बेसिक शिक्षा विभाग का लक्ष्य है

रेवतीपुर गाजीपुर।बेसिक शिक्षा विभाग निरंतर शिक्षा के क्षेत्र में नवाचारी प्रयोग करते हुए सभी को गुणात्मक शिक्षा देने पर जोर दे रहा है।करोना काल में भी बेसिक शिक्षा के विद्यालयों में जिस तरह ऑनलाइन शिक्षा , मुहल्ला क्लास,तथा विभिन्न आयामों से शिक्षा प्रदान किया वह काबिले तारीफ है।उक्त विचार सुहवल के प्राथमिक विद्यालय पूर्वी प्रथम पर आयोजित शिक्षक संकुल की बैठक में बतौर मुख्य अतिथि बेसिक शिक्षा अधिकारी श्रवण कुमार गुप्त ने व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में गाजीपुर को प्रेरक जनपद बनाना है।जिसका दायित्व शिक्षकों के कंधों पर ज्यादा है।लेकि‍न जिस तरह शिक्षक और विद्यालय कार्य कर रहे हैं उससे हम गाजीपुर को प्रेरक जिला बनाकर रहेंगे।उन्होंने न केवल विद्यालय के कार्यों को सराहा व बधाई दी बल्कि कहा कि इसका अनुकरण ब्लॉक के अन्य विद्यालयों को भी करना चाहिए।बैठक का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन करके किया,विद्यालय के बच्चों द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया।
बी,एस,ए, ने टी,एल,एम का निरीक्षण किया तथा पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन को देखा व उसकी सराहना की।विद्यालय के 2 बच्चों कक्षा 3 के मोहम्मद शेख तथा कक्षा 5 की अंकिता कनौजिया को प्रेरणा बालक,प्रेरणा बालिका तथा संकुल शिक्षक सुशील कुमार प्रजापति को प्रेरक शिक्षक का प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।बैठक को खंड शिक्षा अधिकारी प्रभाकर यादव,डायट मेंटर सर्वेश राय,एसआरजी अभिषेक,ए आर पी संत कुमार गुप्ता ने भी संबोधित किया। संकुल शिक्षक सत्यप्रकाश श्रीवास्तव,विजेंद्र सिंह, जयप्रकाश,सुशील,जयशंकर ने संकुल की अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की।बैठक में प्रमुख रूप से प्रेम उपाध्याय,अवधेश कुमार सिंह, रवि शंकर तिवारी, अर्चना राय, सुनीता,अर्चना उपाध्याय,मनोरमा सिंह, अमरीश राय,संजय खरवार, अजय पांडेय,दीपक तिवारी,हरि शंकर उपस्थित थे।कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रभाकर यादव तथा संचालन व आभार विद्यालय के प्रधानाध्यापक तथा प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष भगवती प्रसाद तिवारी ने किया।
रिपोर्ट : संवाददाता

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *