पूर्वांचल न्यूज़

युवक की मौत के 84 घंटे बाद भी एफआईआर के लिए भटक रहे परिजन

मऊ। जनपद के सरायलखंसी थाना क्षेत्र अंतर्गत वाराणसी गोरखपुर एनएच 29 पर औद्योगिक क्षेत्र ताजोपुर के सामने गत मंगलवार की शाम सरेआम हत्या की धमकी के बाद देर रात युवक की मौत के सनसनीखेज मामले में घटना के 84 घंटे बाद तक संबंधित पुलिस एफआईआर तक दर्ज नहीं कर सकी है। जिसके लिए युवक के परिजन दर-दर भटकने को मजबूर हैं।
गौरतलब है कि मंगलवार की शाम औद्योगिक क्षेत्र गाजीपुर के सामने पेट्रोल पंप के बगल में पंचर की दुकान चलाने वाला युवक बृजेश चौहान शाम 7:45 बजे अपने बड़े भाई गुड्डू चौहान को फोन कर बताता है कि उसकी दुकान पर दो मोटरसाइकिल पर सवार चार नकाबपोश आकर होली तक हत्या की धमकी दे रहे हैं। उन नकाबपोशों ने उससे किसी व्यक्ति का नाम लेकर उससे दुश्मनी का हवाला देते हुए होली तक मार देने की धमकी दिया। धमकी से भयभीत बृजेश चौहान ने अपने बड़े भाई को फोन कर तमाम जानकारी दी। इस दौरान पुनः नकाबपोश उसकी दुकान के पास से गुजरे जिसको फिर बृजेश ने अपने बड़े भाई को बताया। बड़े भाई द्वारा उसे समझा-बुझाकर कुछ देर में स्वयं आने को कहा गया।
20 मिनट बाद गुड्डू चौहान ने जब बृजेश को फोन किया तो बृजेश का फोन नहीं उठा। कुछ देर बाद गुड्डू चौहान ने पेट्रोल पंप कर्मचारियों को फोन कर बृजेश से बात कराने को कहा। जब पेट्रोल पंप कर्मचारी बृजेश की दुकान पर पहुंचे तो दुकान खुला हुआ था, खाना बनाने का सामान रखा हुआ था जबकि उक्त युवक वहां से नदारद था। जिसकी सूचना परिजनों को मिलने पर तत्काल सब लोग वहां उपस्थित हुए। पुलिस को सूचना देने के बाद रात तक गुमशुदगी की तहरीर दी गई। वहीं ग्रामीणों द्वारा बृजेश चौहान की खोजबीन के दौरान रात के लगभग 12:00 के करीब गमछे से बंधी हुई उसकी लाश दुकान से 20 मीटर की दूरी पर पाया गया। रात में ही पुलिस ने शव उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बुधवार को परिजनों ने एक नामजद व चार अज्ञात व्यक्ति को आरोपित बनाते हुए बृजेश की हत्या से संबंधित तहरीर थाना अध्यक्ष सरायलखंसी को सौंपी। जिसका एफआईआर शुक्रवार शाम तक दर्ज नहीं हो सकी थी। मृतक के बड़े भाई गुड्डू चौहान ने बताया कि थानाध्यक्ष राम सिंह द्वारा बार-बार थाने पर बुलाया जा रहा है लेकिन एफआईआर नहीं दर्ज किया जा रहा है, जिसको लेकर परिजन दर बदर भटकने को मजबूर हैं।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *